6-8 महीने के शिशुओं के लिए घर में बनाए जाने वाले आहारों के बारे में

209
User Rating
(0 reviews)
READ BY
Photo Credit: Philippe Put feeding the baby via photopin (license)
Read this article in English
यह लेख English में पढ़ें।

माता-पिता अक्सर यह पूछते हैं कि किन चीज़ों से शिशु की आहार विविधीकरण प्रकिया शुरू की सकती है? इस लेख में मैं 6-8 महीने के शिशुओं के लिए घर में बनाए जाने वाले आहारों के बारे में बात करना चाहूंगी।

आहार विविधीकरण अर्थात शिशुओं को अर्ध-ठोस और ठोस आहार कब देना शुरू करना चाहिए, इस विषय में हम पहले भी बात कर चुके हैं। इस विषय पर अलग-अलग लोगों की अलग-अलग राय है। कुछ का मानना है कि शिशु के 4 महीने का होने के बाद उसे अर्ध-ठोस आहार देने में कोई समस्या नहीं है, जबकि अन्य कुछ लोग मानते हैं कि पहले छह महीने तक शिशु को सिर्फ स्तनपान ही करवाना चाहिए। आपके शिशु के लिए क्या ठीक है, इस बात का फैसला, एक बाल रोग विशेषज्ञ आपके शिशु की विकास दर को जाँचने के बाद ही कर सकता है। इस लेख के माध्यम से मैं उन आहारों के बारे में बात करना चाहूंगी जिनसे आप अपने शिशु के अर्ध-ठोस और ठोस आहारों की शुरआत कर सकते हैं।

मेरे निजी अनुभव से, जब मेरा शिशु 6 महीने का हुआ, तो मेरे सामने सबसे बड़ी दुविधा यह थी कि मैं अपने शिशु का आहार विविधीकरण किन आहरों से शुरू करूँ। ऐसे कौन से आहार है, जो न सिर्फ उसके पेट के लिए ठीक हों, बल्कि पौष्टिक भी हों। मैंने अपने बाल रोग विशेषज्ञ से बात की और उन्होंने मुझे सेरेलक से शुरुआत करने की सलाह दी। पर मैं चाहती थी कि मेरे बच्चे के आहार विविधीकरण की शुरआत किसी बाज़ारू चीज़ से ना करके, किसी घर में बनी चीज़ से हो।

मै यह नहीं कह रही हूँ कि सेरेलक एक अच्छा विकल्प नहीं है, पर घर में बने किसी भोजन से बेहतर क्या हो सकता है?

ज़रूर पढ़े – क्या आपका शिशु ठोस आहार के लिए तैयार है ?

1केला

Baby Food – Homemade Baby Foods For 6 To 8 Months Babies

केला विटामिन ए, सी और फोलिक एसिड / फोलेट का एक बेहतरीन विकल्प है। इसलिए बाल रोग विशेषज्ञ, शिशु के आहार विविधीकरण की शुरुआत केले से करने की सलाह देते हैं।

फिर भी, क्योंकि आपका शिशु अभी केले को चबा नहीं पाएगा, तो आप को उसे केला देने से पहले केले को अच्छी तरह से मसल देना बहुत ज़रूरी है। हालांकि केला पहले ही बहुत नरम होता है, फिर भी शिशु को देने से पहले, इसे मसलना न भूलें।

2घर में बनाए जाना वाला सेरेलक

सेरेलक को घर में बनाना बहुत ही आसान है। पैन में देसी घी को गर्म करें और इसमें सूजी डाल कर थोड़ा भुने। आप जितना पतला रखना चाहती है, उस हिसाब से इस में दूध मिलाती रहें। यह सेरेलक आपके शिशु के लिए वसा, प्रोटीन और कार्बल्स का अद्भुत संयोजन है। सबसे बढ़िया बात यह है कि यह शिशु को बहुत पसंद आता है।

3दूध के साथ सेब

इसमें कोई आशंका नहीं है कि सभी फल शिशु के लिए बढ़िया होते हैं, फिर भी सभी फलों से आहार विविधीकरण प्रक्रिया की शुरआत नहीं की जा सकती।

सेब काब्रोहाइड्रेट, विटामिन सी, खनिज बोरान, पेक्टिन इत्यादि के लिए बहुत बढ़िया विकल्प है। यह एक महान प्रथम भोजन को बनाता है। आहार विविधीकरण प्रक्रिया की शुरुआत आप सेब और दूध के साथ कर सकती हैं।

जैसे ही आपका शिशु थोड़ा सा बड़ा हो जाता है, आप उसे सेब का टुकड़ा चबाने के लिए भी दे सकती हैं।

शुरुआती चरण में, सेब देने से पहले यह सुनिश्चित करें कि सेब को कुछ मिनट के लिए गर्म पानी में उबाल लें और इसे छीलने के बाद, इसका अच्छा सा पेस्ट बना ले।

ज़्यादा सुविधा के लिए, इसमें स्तन का दूध या फार्मूला मिल्क मिला के शिशु को दें। यह आपके बच्चे के लिए स्वस्थ के लिए बहुत बढ़िया रहता है। मुझे यकीन है आपका शिशु भी इसे बहुत पसंद करेगा।

ज़रूर पढ़े – सबसे पहला ठोस आहार क्या होना चाहिए?

4मसले हुए आलू

Baby Food – Homemade Baby Foods For 6 To 8 Months Babies

चाहे आप अपने शिशु को मीठे आलू दें या आमतौर पर इस्तेमाल होने वाले आलू., दोनों में ही भरपूर मात्रा में काब्रोहाइड्रेट पाया जाता है।

इनको देने से पहले, आलुओं को अच्छे से उबाल कर, उनको मसल लें, ताकि यह एक पेस्ट जैसे बन जाए। ध्यान रखें कि गांठें न हो।

इसको और क्रीमी बनाने के लिए, इसमें स्तन का दूध या फार्मूला मिल्क मिलाया जा सकता है।

Baby Food – Homemade Baby Foods For 6 To 8 Months Babies
Baby Food – Homemade Baby Foods For 6 To 8 Months Babies

अगर आप इसका स्वाद कुछ अलग करना चाहती है, तो इसमें आप गाजर भी मिला सकती हैं। पर आलुओं में मिलाने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि गाजरें भी उबली हुई और मसली हुई हों।

मैंने इन सभी आहारों को आहार विविधीकरण प्रक्रिया के दौरान एक ही बार में नहीं, बल्कि धीरे-धीरे प्रयोग में लाया। जैसे-जैसे मेरा शिशु स्वादों के अनुकूल होता गया, मैं इन आहरों को शामिल करती गई। अब क्योंकि मेरा शिशु एक साल के करीब हो चला है, तो मेरा आहारों को लेकर चुनाव और विस्तृत हो गया है।

ज़रूर पढ़े – 6 महीने के शिशु का स्वास्थ्य और विकास

हमेशा याद रखें कि जब आप ठोस या अर्द्ध ठोस आहारों से अपने शिशु का परिचय करवाते हैं, तो इस प्रक्रिया में ज़ल्दबाज़ी न करें और बहुत ही धीमी गति से आगे बढ़ें। ठोस पदार्थों के साथ शुरू करने के लिए, सभी आहरों को एक-एक करके शामिल करें और धीरे-धीरे आप इनको नियमित आधार पर शुरू कर सकतें हैं।

यहाँ पर मैं सलाह देना चाहूंगी कि आप इन आहरों में गर्म दूध, फार्मूला दूध या स्तन का दूध भी मिला सकती हैं। लेकिन ध्यान रखें कि अगर आपका शिशु एक साल से काम उम्र का है, तो गाय का दूध नहीं मिलाना है। गाय का दूध सुरक्षित है या नहीं, इस विषय में आप हमारा पुराना लेख पढ़ सकती हैं।

आपने आपने शिशु की आहार विविधीकरण प्रक्रिया की शुरआत किस आहार से की थी? क्या आपने वह आहार बाजार से ख़रीदा था या घर पर बनाया था? क्या आप उस आहार के बारे में और जानकारी बाँटना चाहेंगी? इस विषय में अगर आपके कोई सवाल हों, तो हमसे ज़रूर पूंछें।

  • Write a Review
  • Ask a Question
0 User Rating (0 reviews)
How helpful was this article?
What people say... Write your experience
Sort by:

सबसे पहले अपना अनुभव बाँटे।

Verified Review
{{{ review.rating_title }}}
{{{review.rating_comment | nl2br}}}

Show more
{{ pageNumber+1 }}
Write your experience

Your browser does not support images upload. Please choose a modern one

Latest Questions